अर्थव्यवस्थाराजनीति

भारत के लिए बड़ी कूटनीतिक जीत! अमेरिका ने आतंकवाद पर पाकिस्तान की निष्क्रियता के खिलाफ प्रस्ताव को आगे बड़ाया

2 Shares

भारत के लिए एक बड़ी कूटनीतिक जीत में, अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने आतंकवाद के खिलाफ कोई ठोस कदम नहीं उठाने के लिए पाकिस्तान के खिलाफ एक प्रस्ताव पारित करने के लिए प्रस्ताव को आगे रखा है। प्रस्ताव आतंकवादी राष्ट्र के वास्तविक इरादे को उजागर करता है और पाकिस्तान और उन सभी लोगों पर सख्ती की मांग करता है जो आतंकवादी राष्ट्र और आतंकवादियों का समर्थन कर रहे हैं

अमेरिकी कांग्रेसी स्कॉट पेरी ने पाकिस्तान के खिलाफ अमेरिकी कांग्रेस में इस प्रस्ताव को आगे बढ़ाया है। अमेरिकी कांग्रेसी ने वर्षों में पाकिस्तान द्वारा किये गये आतंकी अपराधों की सूची को आगे रखा है। उन्होंने पुलवामा आतंकी हमले के शहीद सीआरपीएफ के 40 जवानों को भी श्रद्धांजलि दी है।

प्रस्ताव में कहा गया है कि हम भारत पर हुए हमले की कड़ी निंदा करते हैं और पीड़ितों के परिवार और दोस्तों के प्रति संवेदना प्रदान करते है, और भारत के लोगों के साथ एकजुटता की पुष्टि करते है।

यह भी रेखांकित किया गया है कि संयुक्त राज्य अमेरिका और संयुक्त राष्ट्र (U.N.) ने जैश-ए-मोहम्मद (JeM) को 26 दिसंबर 2001 से एक विदेशी आतंकवादी संगठन के रूप में नामित किया है।

लेकिन पाकिस्तान ने इसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है। पाकिस्तान ने इस आतंकवादी संगठन को सुरक्षित पनाहगाह मुहैया कराई है। ‘‘पाकिस्तानी सरकार लश्कर ए-तैय्यबा (LeT) और JeM को खुलेआम धन बटोरने, भर्ती करने और प्रशिक्षण देने से रोकने में विफल रही है।

रिपोर्ट में जोर देकर कहा गया है कि इतने साल हो गए हैं लेकिन पाकिस्तान द्वारा आतंकवादी समूह के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई है और सभी आतंकवादी समूह अभी भी सक्रिय हैं और कई हमले कर के मासूमों को मौत के घाट उतार रहे है|

उन्होंने यह भी दोहराया कि अमेरिका भारत के साथ खड़ा है और अल-कायदा (AQ), ISIS, JeM, LeT, और D- कंपनी सहित समूहों से आतंकवादी खतरों के खिलाफ सहयोग को मजबूत करने का संकल्प लेता है| “संयुक्त राज्य अमेरिका भारत सरकार के साथ सभी रूपों में आतंकवाद से निपटने के लिए काम करने के लिए प्रतिबद्ध है”|

अमेरिका के इस कदम से सभी आतंकी हमदर्दों को बड़ा झटका लगा है। अंतर्राष्ट्रीय समुदाय इस वक़्त भारत के साथ खड़ा है| लगभग सभी देशों ने पाकिस्तान को लताड़ा है और उसे आतंकवाद के प्रचार के लिए चेतावनी दी है। यह निश्चित रूप से आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में भारत की मदद करेगा


Kashish

2 Shares

Related Articles

FOR DAILY ALERTS
 
FOR DAILY ALERTS
 
Close