राजनीति

संयुक्त राज्य अमेरिका ने मुंबई हमलों के अपराधियों के बारे में जानकारी किसी भी देश में गिरफ़्तारी या सज़ा पर 5 मिलियन डॉलर का इनाम घोषित किया।

256 Shares

 

संयुक्त राज्य अमेरिका ने सोमवार को 2008 के मुंबई आतंकी हमले की योजना और निष्पादन में शामिल किसी भी व्यक्ति के किसी भी देश में गिरफ्तारी या दृढ़ विश्वास की जानकारी के लिए 5 मिलियन अमरीकी डालर का इनाम घोषित किया है। 35 करोड़ रुपये से ज्यादा का इनाम देने की ट्रम्प सरकार की यह बड़ी घोषणा भारत के घातक आतंकवादी हमले की 10 वीं वर्षगांठ के दिन ही आई है।

पाकिस्तान की आतंकवादी संगठन लश्कर-ए तैयबा के आतंकवादियों ने भारत के वित्तीय केंद्र मुम्बई में आतंक का कहर ढ़ाया था। इस घातक हमले में 174 लोगों की मौत हो गई थी जिसमें छह अमेरिकि नागरिक भी शामिल थे। अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पेओ ने बयान जारी करते हुए कहा कि 26/11 मुम्बई हमला “बर्बरता” का रूप था। उन्होंने हमलों में शामिल आतंकवादियों को दोषी ठहराने में विफलता पर निराशा भी व्यक्त की।

उन्होंने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए लश्कर-ए-तैयबा और उसके सहयोगियों सहित अत्याचार के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ प्रतिबंध लागू करने के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के दायित्वों को बनाए रखने के लिए कहा। भारत के लोगों के साथ अपनी एकजुटता व्यक्त करते हुए सचिव पोम्पेओ ने कहा कि 26/11 की बर्बरता ने पूरी दुनिया को चौंका दिया था और संयुक्त राज्य अमेरिका उन पीड़ितों के परिवार और दोस्तों के साथ खड़ा है जिन्होंने आतंकवादी हमले में अपनी जान गंवा दी है।

सत्तर साल के आज़ादी के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि अमरीकी सरकार ने खुले तौर पर पाकिस्तान को आड़े हाथों लिया है और भारत के साथ चट्टान की तरह खडा है। मुम्बई हमले के दॊषियों को किसी भी देश में गिरफ़्तारी , सज़ा य फिर उनके जानकारी देने वालों को 35 करॊड़ से भी ज्यादा रूपयों का इनाम देने की घॊषणा करना कॊई आम बात नहीं है। यह दिखाता है कि अब अमरीका भी भारत की दॊस्ती के लिए कुछ भी कर सकता है।

पिछ्ले 4.5 वर्षों में मॊदी जी ने भारत के छवी को एक लाचार बेबस देश से शक्तिशाली और विश्व नायक के रूप में उभारा है। जो अमरीका किसी ज़माने में खुद पाकिस्तान को वित्तीय सहायता दिया करता था वह आज भारत के साथ खड़ा है। लगभग सभी देश पाकिस्तान से पल्ला झाड़ चुके हैं। अब बस चीन का सहारा है, जो कुछ ही दिनों में डूब जायेगा। यह सब मॊदी जी के कूटनीती का ही कमाल है।

256 Shares
Tags

Related Articles

FOR DAILY ALERTS
 
FOR DAILY ALERTS
 
Close