राजनीति

सुप्रीम कोर्ट ने ममता बनर्जी को लगाई फटकार, “इतनी कड़ी कारवाई करेंगे, आपको पछतावा होगा”

5 Shares

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को घोटालेबाजों को बचाने की अपनी गंदी चाल में बड़ा झटका लगा है| सुप्रीम कोर्ट ने कोलकाता के पुलिस आयुक्त राजीव कुमार को बड़ा झटका देते हुए चेतावनी दी है और कहा है कि वे सबूतों के साथ खिलवाड़ न करें।
भारत के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने कहा है कि “अगर कोलकाता पुलिस आयुक्त सबूत नष्ट करने की सोच भी रहें हैं तो ये उनके लिए बहुत बुरा होगा|वे अदालत के सामने सारे सबूत लेकर आयें नहीं तो हम उस पर इतनी भारी कारवाई करेंगे कि उन्हें इसके लिए पछताना पड़ेगा”।

कोलकाता पुलिस के प्रमुख राजीव कुमार उन दिनों से फरार हैं, जब सीबीआई ने बहु-करोड़ सारदा और रोज वैली पोंजी घोटाले में उन्हें गिरफ्तार करने की संभावना जताई थी। लेकिन जब सबको झटका देने के लिए सीबीआई के अधिकारी कोलकाता पहुंचे, तो पश्चिम बंगाल पुलिस ने सीबीआई अधिकारियों को गिरफ्तार कर लिया। यह सीधे तौर पर अदालत की अवमानना थी क्योंकि सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर सीबीआई अधिकारी काम कर रहे थे।

बाद में अदालत की अवमानना की अपनी गलती को छुपाने के लिए ममता बनर्जी धरने पर बैठ गईं तांकि उन्होंने महागठबंधन में अन्य सभी हितधारकों का समर्थन हासिल हो सके। सीबीआई अधिकारियों के ब्लॉक करने के तानाशाह ममता बनर्जी के कदम को सीबीआई ने चुनौती दी है और अब 5 फरवरी यानी कल न्यायाधीश सीबीआई की याचिका पर सुनवाई करेंगे।

ममता बनर्जी के करीबी सहयोगी को लताड़ लगाते हुए सीबीआई के अंतरिम निदेशक नागेश्वर राव ने कहा है कि “उनके (राजीव कुमार) के खिलाफ बहुत सबूत हैं, सबूतों को नष्ट करने और न्याय में बाधा डालने में उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा है।”

यह अराजकता तब हो रही है जब ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल नाम के सिर्फ एक राज्य में शासन कर रही हैं। सोचिए अगर 2019 के लोकसभा चुनाव के बाद महागठबंधन सत्ता में आए और भारत पर शासन करे तो क्या होगा। वर्तमान में, तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के गुंडों ने पश्चिम बंगाल राज्य में हंगामा खड़ा कर दिया है और भाजपा कार्यकर्ताओं और उनके कार्यालयों पर हमला कर रहे हैं, सिर्फ इसलिए कि मोदी सरकार ममता बनर्जी द्वारा संचालित भ्रष्टों पर कारवाई कर रही है|

5 Shares
Tags

Related Articles

FOR DAILY ALERTS
 
FOR DAILY ALERTS
 
Close