अर्थव्यवस्थाराजनीति

गर्व का क्षण! प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी पहले ऐसे प्रधानमंत्री बने जिनको फिलिप कोटलर राष्ट्रपति पुरस्कार से नवाज़ा गया

350 Shares

भारतीयों के लिए एक बार फिर गर्व का क्षण आया है। हां, जो आपने जो पढ़ा है वह पूरी तरह से सही है क्योंकि हमारे लिए उत्साह और जश्न मनाने का फिर से एक मौका आया है| भारत को एक बार फिर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सराहा गया है। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के तहत देश के विकास को जो भारत में बसे हुए लोगों को नज़र नहीं आता है उसकी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सराहना की गई है।

चैंपियन आफ द अर्थ अवार्ड और सीओल पीस पुरस्कार के बाद अब प्रधान मंत्री मोदी को फिलिप कोटलर राष्ट्रपति पुरस्कार से नवाज़ा गया है|प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ऐसे पहले प्रधान मंत्री है जिन्हें इस पुरस्कार से सम्मानित किया गया है| पुरस्कार प्रशस्ति पत्र में कहा गया है कि प्रधान मंत्री मोदी को उनके “राष्ट्र के लिए उत्कृष्ट नेतृत्व और भारत के प्रति निस्वार्थ सेवा, उनकी अथक ऊर्जा के लिए चुना गया है जिसके परिणामस्वरूप देश का आर्थिक, सामाजिक और तकनीकी रूप से बहुत विकास हुआ है|

प्रधान मंत्री मोदी के साहसिक नेतृत्व कौशल को दुनिया भर में पहचाना गया है।अवार्ड प्रशस्ति पत्र इस तथ्य को भी स्वीकार करता है कि प्रधान मंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत को अब नवाचार और विनिर्माण (मेक इन इंडिया) के केंद्र के रूप में पहचाना जाता है, साथ ही सूचना प्रौद्योगिकी, लेखा और वित्त जैसी व्यावसायिक सेवाओं के लिए एक वैश्विक केंद्र के रूप में जाना जाता है।

यह पुरस्कार फिलिप कोटलर के नाम पर है, जिन्हें ‘आधुनिक विपणन के पिता’ के रूप में जाना जाता है। वह नॉर्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी, केलॉग स्कूल ऑफ मैनेजमेंट में मार्केटिंग के प्रोफेसर हैं। कोटलर ने मार्केटिंग के सिद्धांतों में बेस्टसेलर प्रिंसिपल्स ऑफ़ मार्केटिंग सहित 60 मार्केटिंग किताबें लिखी हैं। 87 वर्षीय प्रोफेसर ने शिक्षा, पर्यावरण, सरकारी विपणन, स्वास्थ्य सेवा, आतिथ्य और नवाचार जैसे अन्य क्षेत्रों पर भी विस्तार से लिखा है। वह अमेरिकन मार्केटिंग एसोसिएशन से “लीडर इन मार्केटिंग थॉट” पुरस्कार प्राप्त करने वाले पहले व्यक्ति बने। इसके अलावा, कोटलर ने अपने बेहद सफल करियर में 22 मानद उपाधियाँ प्राप्त की हैं।

विपणन और प्रबंधन जैसे क्षेत्रों में महारत के साथ लोगों को सम्मानित करने के लिए कोटलर पुरस्कार विकसित किया गया है। यह दुनिया भर के विभिन्न उद्योगों में संगठनों, व्यक्तियों और विपणन टीम को पहचानता है और सम्मानित करता है। इस पुरस्कार का उद्देश्य व्यक्तियों और कंपनियों के उदाहरणों का प्रसार करना है जो किसी उद्योग या देश की आर्थिक, सामाजिक और तकनीकी प्रगति के लिए एक अभिनव संस्कृति का निर्माण करते हैं। यह पुरस्कार न केवल व्यक्तियों और कंपनियों को सम्मानित करता है, बल्कि एक उद्योग में उच्च मानकों को स्थापित करने वाली नई प्रतिभाओं और अद्वितीय नवाचारों को उजागर करना चाहता है।

यह पुरस्कार दृढ़ता से बताता है कि प्रधान मंत्री मोदी के उल्लेखनीय प्रयासों और पहलों को न केवल भारत में बल्कि पूरे विश्व में पहचाना जा रहा है। मेक इन इंडिया जैसी योजनाएं एक बड़ी सफलता साबित हुई हैं जिसने भारत को वैश्विक अर्थव्यवस्था के केंद्र में रखा है। यह पुरस्कार केवल प्रधानमंत्री मोदी के लिए ही नहीं बल्कि पूरे देश के लिए बड़े सम्मान की बात है। यह पुरस्कार न केवल प्रधान मंत्री के नेतृत्व और नवाचार कौशल का जश्न मनाता है, बल्कि एक बड़े और अभूतपूर्व तरीके से वैश्विक क्षेत्र पर भारत के उदय के तथ्य की गवाही भी देता है।

350 Shares
Tags

Related Articles

FOR DAILY ALERTS
 
FOR DAILY ALERTS
 
Close