राजनीति

असदुद्दीन ऒवैसी को हिन्दू शेर की चेतावनी: अगर तेलंगाणा में भाजपा सत्ता में आई तो ऒवैसी को उसी तरह हैदराबाद से भागना होगा जिस तरह निजाम भागा था।

471 Shares

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी को चेतावनी दी कि अगर भारतीय जनता पार्टी राज्य में सत्ता में आ जाए तो ओवैसी को तेलंगाना से उसी तरह से भागना होगा जैसे निजाम को हैदराबाद से भागने के लिए मजबूर होना पड़ा था। हिन्दू शेर यॊगी आदित्यनाथ ने कट्टरपथीं ऒवैसी को चेतावनी दी है। ये वही ऒवसी है जो हिन्दुओं को मारने काटने की बात करते हैं। इसके भाई अकबरुद्दीन ऒवैसी ने हिन्दुओं को खुले आम धमकी दी थी। देश के कानून को ललकारते हुए
पंद्रह मिनट के लिए पुलिस को हटाने की मांग किया था और कहा था कि पच्चीस करॊड़ मुसलमान सौ करोड़ हिन्दुओं को खतम कर देंगे।

जिस प्रकार हैदराबद के निजाम ने हिन्दुओं पर अत्याचार किया था ठीक उसी प्रकार की बोली ऒवैसी भाई भी बोलेते हैं। हाल ही में असदुद्दीन ने भाजपा के अध्यक्ष को बीफ़ बिरियानी भेजने की धमकी दी थी। लेकिन अब जब यॊगी आदित्यनाथ ने ऒवैसी को चेतावनी दी है तो देश के सेक्यूलर ब्रिगेड को मिर्च लगी है। इस देश में बोलने की आज़ादी केवल कांग्रेस और उसके पिद्दियों , सेक्यूलर ब्रिगेड और बुद्दिजिवियों को है।

संगारेड्डी की एक रैली में आदित्यनाथ ने कांग्रेस पर अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण में बाधा डालने का आरोप लगाते हुए कहा “अगर कोई भगवान राम के जन्मस्थान में एक भव्य मंदिर के निर्माण के रास्ते में बाधा उत्पन्न कर रहा है, तो वह कांग्रेस है,”। उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा केवल और केवल विकास करती है। तुष्टीकरण की राजनीति कांग्रेस और टीआरएस कर रही है। कांग्रेस ने मुस्लिम मतदाताओं को लुभाने के लिए केवल मुसलमानों के क्षेत्र विकास के लिए निधि प्रदान करने का दावा किया था। यह उसकी विभाजन की राजनीति को दर्शाता है।

अगर कांग्रेस या अन्य दल देश के प्रधानमंत्री का अपमान करते हुए उनके लिए अपशब्द कहे तो वह अभिव्यक्ति की आज़ादी है। अगर कॊई गद्दार देश के टुकड़े करने की घॊषणा दे तो वो भी अभिव्यक्ति की आज़ादी है। लेकिन अगर कॊई हिन्दू उनको उन्हीं की भाषा में जवाब दे तो वह सांप्रदायिक है। ईंट का जवाब पत्थर से देना हिन्दुओं को भी आता है। वो कहे तो ठीक और हम कहे तो गलत ऐसा क्यों?


Source : news18

471 Shares
Tags

Related Articles

FOR DAILY ALERTS
 
FOR DAILY ALERTS
 
Close